Ball-Tampering: योग के लिए क्रिकेट छोड़ने का मन बना चुके थे ‘कलंकित’ बेनक्रॉफ्ट

ऑस्ट्रेलिया के कलंकित क्रिकेटर कैमरन बेनक्रॉफ्ट ने शनिवार को कहा कि गेंद से छेड़छाड़ मामले के बाद से वह पूरी तरह बदल चुके हैं और योग प्रशिक्षक बनने के लिए क्रिकेट छोड़ने की सोच रहे थे. दक्षिण अफ्रीका में हुए गेंद से छेड़छाड़ विवाद के बाद सलामी बल्लेबाज बेनक्रॉफ्ट पर नौ महीने का प्रतिबंध लगाया गया था. तत्कालीन कप्तान स्टीव स्मिथ और उपकप्तान डेविड वॉर्नर पर एक साल का प्रतिबंध लगाया गया. स्मिथ ने सिडनी में प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जबकि बेनक्रॉफ्ट ने भी प्रतिबंध खत्म होने से एक सप्ताह पहले चुप्पी तोड़ी.

बेनक्रॉफ्ट ने खुद को लिखे लंबे पत्र में उस घटना के बाद से अब तक के अपने जज्बाती सफर का जिक्र किया. यह पत्र वेस्ट ऑस्ट्रेलिया के अखबार में छपा है. बेनक्रॉफ्ट ने बताया कि कोच जस्टिन लैंगर और एडम वोजेस का उस पर कितना प्रभाव है. बेन ने यह भी कहा कि क्रिकेट से दूर रहते हुए योग उसके जीवन का अभिन्न अंग बन गया और उसने योग प्रशिक्षक बनने के लिए खेल छोड़ने का मन बना लिया था. बेनक्रॉफ्ट ने लिखा ,‘ शायद क्रिकेट तुम्हारे लिए नहीं है. खुद से पूछो . क्या तुम वापसी करोगे. योग से संतोष मिलता है.’ बाद में बेनक्रॉफ्ट ने क्रिकेट में वापसी का फैसला किया और 30 दिसंबर को पर्थ स्कॉर्चर्स के लिए बिग बैश टी-20 लीग का पहला मैच खेलेंगे.

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ शुक्रवार को कह चुके हैं कि वह आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करके अगले साल होने वाले विश्व कप से पहले फिर से अपनी पुरानी लय में लौटना चाहते हैं. आईपीएल से पहले उन पर लगा प्रतिबंध समाप्त हो जाएगा. दक्षिण अफ्रीका से लौटने के बाद स्मिथ संवाददता सम्मेलन में रो पड़े थे. इसके बाद उन्होंने अब पहली बार संवाददाताओं का सामना किया. 29 साल के स्मिथ आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की तरफ से खेलते हैं. स्मिथ ने गेंद से छेड़छाड़ के मामले के कारण कप्तानी छोड़ दी थी, लेकिन वह फ्रेंचाइजी का हिस्सा बने हुए हैं. स्मिथ ने कहा, ‘मुझे बांग्लादेश लीग में खेलना था, लेकिन मुझे नहीं पता कि अभी वहां क्या हो रहा है. इसके बाद पाकिस्तान लीग और आईपीएल में खेलना है. मुझे लगता है कि अगर मुझे चुना जाता है तो यह विश्व कप के लिये पर्याप्त तैयारी होगी.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *